RTPS क्या है – RTPS में कौन कौन सी सुबिधा मिलती है।

सरकार ने अपने राज्य के नागरिको की सुबिधा के लिए पोटल बनाया है। जिसका नाम RTPS है। क्या आपको RTPS के विषय में जानकारी है। यदि आपको कोई भी जानकारी नहीं है तो चिन्तित होने की बात नहीं है। यदि RTPS के विषय में जानकारी हासिल करना चाहते है तो उसके लिए लेख को पूरा पढ़े।

RTPS Full Form

Full Form Of RTPS in Hindi : RTPS का फुल फॉर्म Right To Public Service और जिसका हिन्दी अनुबाद लोक सेवा का अधिकार होता है।

RTPS क्या है

भारत में लोक सेवाओं के अधिकार कानून में वैधानिक कानून शामिल हैं जो सरकार द्वारा नागरिकों को प्रदान की जाने वाली विभिन्न सार्वजनिक सेवाओं के लिए सेवाओं के समयबद्ध वितरण की गारंटी देते हैं और कानून के तहत निर्धारित सेवा प्रदान करने में त्रुटिपूर्ण लोक सेवक को दंडित करने के लिए तंत्र प्रदान करते हैं।

सेवा का अधिकार कानून सरकारी अधिकारियों के बीच भ्रष्टाचार को कम करने और पारदर्शिता और सार्वजनिक जवाबदेही बढ़ाने के लिए है। मध्य प्रदेश 18 अगस्त 2010 को सेवा का अधिकार अधिनियम लागू करने वाला भारत का पहला राज्य बन गया और बिहार इस बिल को लागू करने वाला दूसरा राज्य था।

जुलाई 2011। बिहार, दिल्ली, पंजाब, राजस्थान, हिमाचल प्रदेश, केरल, उत्तराखंड, हरियाणा, उत्तर प्रदेश, ओडिशा, झारखंड महाराष्ट्र और पश्चिम बंगाल जैसे कई अन्य राज्यों ने नागरिकों को सेवा के अधिकार को लागू करने के लिए इसी तरह के कानून पेश किए हैं।

RTPS में कौन कौन सी सुबिधा मिलती है।

विभिन्न राज्यों में विधानों के सामान्य ढांचे में “सार्वजनिक सेवाओं का अधिकार” प्रदान करना शामिल है, जो निर्धारित समय सीमा के भीतर नामित अधिकारी द्वारा जनता को प्रदान किया जाना है। जिन सार्वजनिक सेवाओं को कानून के तहत अधिकार के रूप में प्रदान किया जाना है, उन्हें आम तौर पर राजपत्र अधिसूचना के माध्यम से अलग से अधिसूचित किया जाता है। कुछ सामान्य सार्वजनिक सेवाएं जो अधिनियमों के तहत अधिकार के रूप में निश्चित समय सीमा के भीतर प्रदान की जानी हैं, उनमें जाति, जन्म, विवाह और अधिवास प्रमाण पत्र, बिजली कनेक्शन, मतदाता कार्ड, राशन कार्ड, भूमि रिकॉर्ड की प्रतियां आदि जारी करना शामिल है।

अन्तिम शब्दों में –
प्रिय पाठको आज हमने इस लेख पढ़ा की RTPS क्या है – RTPS में कौन कौन सी सुबिधा मिलती है। उम्मीद करता हु की लेख में दी गयी जानकारी आपको समझ में आ गयी होगी। यदि लेख से सम्बंधित कोई भी प्रशन आपके पास है तो आप पूछ सकते है। हम आपके प्रशन का उत्तर देने की जरूर कोशिश करेंगे। लेख को सोशल मीडिया पर शेयर करना ना भूले। ताकि लोगो को भी महत्ब्पूर्ण जानकारी मिल सके।

यह भी पढ़े —

लेख को पूरा पढ़ने के लिए आपका बहुत-बहुत धन्यवाद।

Spread the love