BSC Full Form – BSC की सम्पूर्ण जानकारी हिन्दी में। Gyan Hindi Web

क्या आपको पता है कि Bsc Full Form क्या है? और अगर आप इसी सवाल का जबाब ढूढने यहां आये है, तब यह लेख आपके लिए बहुत फायदेमंद होने वाला है? आज जब छात्र अपनी 12 वीं की पढाई पूरी कर लेते है, तो उनके मन में आगे पढ़ने के लिए कोर्स का चयन करने की बात आती है, ऐसे में अधिकतर छात्र इंजीनियरिंग या एमबीबीएस, या कोई डिप्लोमा कोर्स के लिए पढाई शुरु कर देते है, हां एक बात इंजीनियरिंग और एमबीबीएस दोनों कोर्सो में देखने को मिलती है, वो ये है की आज के समय में ज्यादतर लोग 12 वीं के बाद इन दोनों कोर्स को ही प्राथमिकता देते है

Bsc Full Form

और बीते कुछ वर्षों में इन दोनों ही कोर्सों में छात्रों ने अधिक रुचि दिखाई है और जिसके चलते इन दोनों कोर्सों के टॉप क्लास कॉलेजों की भारत में भरमार हो गई है. क्योंकि अच्छी कॉलेजों में सीटें लिमिटेड होती हैं और अभ्यर्थियों की संख्या ज्यादा होने की वजह से कंपटीशन ज्यादा टफ हो गया है।

यह भी पढ़े –

BA Full Form – BA सम्पूर्ण जानकारी हिन्दी में।

Phd  Full Form – Phd सम्पूर्ण जानकारी हिन्दी में।

लेकिन कई छात्र ऐसे भी हैं जो समझदारी दिखाते हैं और किसी प्राइवेट कॉलेज में इंजीनियरिंग या एमबीबीएस करने की बजाए एक अच्छे सरकारी विश्वविद्यालय में बीएससी कोर्स कोर्स करने का निश्चय करते हैं आज के समय में बीएससी डिग्री करने के बाद कैरियर की असीम संभावनाएं हैं लेकिन जानकारी के अभाव के चलते बहुत से छात्र बीएससी करने के बाद सोचते हैं कि इस कोर्स को करने का कोई फायदा नहीं हुआ और इसी वजह से बीते कुछ वर्षों में लोग बीएससी डिग्री की तुलना किसी डिप्लोमा से करने लगे हैं जिस वजह से इस कोर्स की इमेज को क्षति पहुंची है।

बीएससी का हिंदी में पूरा नाम- Bsc Full Form

english में Bsc का पूरा मतलब होता है, Bsc Full Form in english- bachelor Of     Science. इसके साथ ही बीएससी का हिंदी में मतलब होता है, विज्ञान में स्नातक।

इस डिग्री के तहत छात्रों को science और technology के क्षेत्र की पूरी जानकारी तीन वर्षीय पाठ्यक्रम में दी जाती है, इसलिए इस डिग्री को under graduate academic degree कहा जाता है।

यह कोर्स उन छात्रों के लिए एक लोकप्रिय पाठ्यक्रम है जिन छात्रों ने अपनी 12वीं कक्षा में साइंस विषय का चयन किया था अगर बात करें इस पाठ्यक्रम की अवधि के बारे में तो हर देश के हिसाब से इस पाठ्यक्रम के वर्षों में कुछ फर्क देखने को मिल सकता है. उदाहरण के तौर पर देखा जाए तो भारत में बीएससी का पाठ्यक्रम 3 वर्ष का है। जबकि अर्जेंटीना में बीएससी का पाठ्यक्रम 5 वर्षीय है।

Bsc Kya Hai ? Bsc Full Form

जैसा कि मैं आपको ऊपर पहले ही बता चुका हूं कि बीएससी डिग्री विज्ञान और टेक्नोलॉजी के विषयों से संबंधित एक ग्रेजुएट स्तर का कोर्स है, लेकिन छात्र बीएससी या बीएससी ऑनर्स इन दोनों पाठ्यक्रमों में से एक पाठ्यक्रम का चयन कर सकते है।  आपको बता दूँ बीएससी इतना पॉपुलर कोर्स है जो भारत के साथ-साथ कई देशों में भी करवाया जाता है, और यही सबसे बड़ी वजह है, कि इस कोर्स को छात्रों द्वारा सबसे ज्यादा पसंद किया जाता है. 

अगर आप भी science और technology जैसे क्षेत्रों में अपना अच्छा करियर बनाना चाहते है, तो यह 3 वर्षीय डिग्री कोर्स आपके लिए एक बेहतर कोर्स साबित हो सकता है, और अगर आपने अपनी 12 वीं कक्षा में science विषय को चुना था, और उसी के साथ आपकी रूचि भी रही है, तब यह कोर्स आपको करना ही चाहिए, क्योंकि यह कोर्स आपके लिए काफी किफायती साबित हो सकता है, और आप इस कोर्स को आप महज 3 साल में पूरा कर सकते है, लेकिन आपको जिस विषय के साथ रूचि हो या आप जिस विषय में अपना करियर बनाना चाहते है, आप उसी विषय के साथ बीएससी कोर्स करें।

Bsc कितने प्रकार की होती है?

चलिए दोस्तों अब में बात कर लेता हूँ, बीएससी कितने प्रकार की होती है, इसका जबाब है, bsc मूल रूप से दो प्रकार की होती है, पहली बीएससी जनरल और दूसरी बीएससी ऑनर्स और ये दोनों ही 3 साल की होती है.

अब आप सोच रहे होंगे की दोनों में फर्क क्या है, तो दोस्तों में आपकी जानकारी के लिए बता दूँ, कि बीएससी जनरल में आपको तीनों सालो में 3 अलग-अलग विषयों में पढाई करनी होती है, लेकिन बीएससी ऑनर्स में आपको एक ही विषय पर तीनों साल तक पढ़ाई करनी होगी।

साथियों जैसा की मैं आपको पहले ही बता चूका हूँ बीएससी एक बैचलर ऑफ साइंस से सम्बंधित डिग्री है. जिसमें आपको science के अलग-अलग  विषयों में करियर बनाने के मौका दिया जाता है.

अब इसमें देखने वाली बात यह है, की अलग-अलग देशों में इस डिग्री में अलग-अलग विषय सम्मिलित किये गए है, जिससे बीएससी कोर्स करने वाले छात्रों को आसानी हो जाती है, और वो अपनी पसंद के विषय पर ध्यान भी दे सकते है।

लेकिन भारत में बीएससी डिग्री के तहत science के निम्नलिखित विषय शामिल है।

What are BSc subjects?

  • Mathematics
  • Biology
  • Computer Science
  • Information Technology
  • Social Science
  • Agriculture
  • Chemistry
  • Physics
  • Biotechnology
  • Nursery
  • Biochemistry आदि

तो दोस्तों अब आपको पता चल गया होगा की बीएससी क्या है, अब हम इस कोर्स के लिए विस्तार से बात कर लेते है.

Bsc कोर्स में पढाये जाने वाले विषय- bsc syllabus

साथियों अब तक अब आपने जाना है, बीएससी क्या है. चलिए अब बात कर लेते है, की बीएससी के तहत आपको किन-किन विषयों का चुनाव करने का मौका दिया जाएगा, जिनके साथ आप अपनी 3 वर्षीय बीएससी डिग्री को पूरा करेंगे।

लेकिन एक बात जो आपके लिए जानना बहुत जरूरी है, वो ये है, अगर आपने अपनी 12 वीं कक्षा में science का विषय चुना था, यानि आपने अपनी 12 वीं विज्ञान विषय के साथ की है, तभी आप  बीएससी कर सकते है, अन्यथा आपको इस डिग्री को करने का मौका नही मिल सकता, और यही बात इस कोर्स के लिए सबसे ख़राब बात है,

अब डाल लेते है, बीएससी कोर्स के विषयों पर एक नजर,

  • BSC Category details
  • BSC -Information Technology
  • BSC –Mathematics
  • BSC -Food Technology
  • BSC-Genetics
  • BSC-Chemistry
  • BSC -Nursing
  • BSC –Animation
  • BSC -Multimedia
  • BSC -Microbiology
  • BSC -Electronics
  • BSC-Agriculture
  • BSC –Mathematics
  • BSC Subjects details
  • Chemistry
  • Computer Science
  • Botany
  • Mathematics
  • Biochemistry
  • Physics
  • Electronics
  • Zoology
  • Biology
  • Environmental Science आदि,

Bsc करने के बाद करियर ऑप्शन-

साथियों अब बात कर लेते है, की बीएससी करने के बाद वो कौन से करियर ऑप्शन है, जिन्हें आप चुन सकते है, और आपको लोगो की सुनी सुनाई बातो पर से भी ध्यान हट जाएगा, जो कहते है, बीएससी करने के बाद कोई करियर नहीं है।

क्योंकि जानकारी के आभाव में अक्सर लोग बीएससी करने के बाद घर बैठ जाते है, और अपने आप को कोसते है, की अब उनकी जिन्दगी में करियर ऑप्शन बचे ही नहीं है,

चलिए अब में आपको बताता हूँ की बीएससी करने के बाद आप किन फील्ड्स में अपना शानदार करियर बना सकते हैं,

Bsc करने के बाद करियर ऑप्शन-

  • Hospital
  • Research firm
  • Chemical industry
  • Food institute
  • Waste water plant
  • Forest services
  • Aquariums
  • health care providers
  • Testing laboratory
  • agro Industry
  • Biotech firms
  • oil industry
  • Seed and nursery companies
  • Geological survey department
  • Forensic crime research
  • Industrial laboratories
  • Environmental Management and Conservation
  • Space Research Institute
  • Wildlife and fisheries department
  • Educational Institute
  • Pharmaceuticals and biotech industry

Bsc के बाद जॉब ऑप्शन-

अब तक आपने जान लिया है, की बीएससी करने के बाद करियर ऑप्शन क्या है. आइये डालते है एक नजर बीएससी करने के बाद जॉब ऑप्शन पर,

  • Plant biochemist
  • Cytologist
  • Oceanographers
  • Ecologist
  • Classification scientist
  • Toxicologist
  • Genealogist
  • Chemist
  • Pharmacist
  • The doctor
  • Lecturer
  • Science advisor
  • Anesthetist
  • Biology researcher
  • Laboratory technician
  • Dairy technologist
  • Marine geologist
  • Clinical research specialist

Bsc करने के बाद पढाई के ऑप्शन-

साथियों आपकी जानकारी के लिए बता दें कि बीएससी कोर्स कर लेने के बाद आप सरकारी और निजी क्षेत्रों में नौकरी करने के लिए तैयार हो जाते है, क्योंकि समय-समय पर सरकारी भर्तियाँ निकलती रहती है, और अगर आपने अपनी बीएससी पूरी कर ली है, तो आप अपने विषय से सम्बंधित सरकारी नौकरी या दूसरे किसी क्षेत्र की नौकरी के लिए फार्म भर सकते है, क्योंकि इन कोर्सो की भी market में अच्छी वेल्यू है।

Bsc करने के बाद का भविष्य –

अब आपको बीएससी और इस कोर्स से होने वाले फायदे तो पता चल ही गए होंगे, लेकिन अब आपके मन में एक सवाल चल रहा होंगा की बीएससी के बाद का भविष्य कैसा होगा, तो हम आपको बता दें कि अगर आपने अपनी बीएससी की पढाई पूरी मेहनत और ईमानदारी के साथ की होगी तो आपको अपने लिए एक बेहतर करियर ऑप्शन चुनने और उसमें आगे बढ़ने में कोई दिक्कत नहीं होगी।

हम ये नहीं कह रहे है कि आप बीएससी के बाद जॉब ही करें आप अपने विषय से सम्बन्धित कोई व्यवसाय भी खोल सकते है, जिसमें आप खुद के मालिक बन कर मनचाही income कर सकेंगे, और इससे आप जरुरत मंद लोगो को काम भी दे सकेंगे.

तो दोस्तों आपको बीएससी के उपर लिखा गया ये लेख कैसा लगा, आप हमें कमेंट करके बता सकते है, अगर आपके मन में कोई सवाल रह गया है, तो आप कमेंट बॉक्स में अपना सवाल डाल दीजिये हम अगले लेख में आपके सवाल को जरुर शामिल करेंगे. पूरा लेख पढने के लिए धन्यवाद.